आखिर क्या होती है जेड प्लस, जेड या वाई कैटगरी की सुरक्षा, जानिए- किसमें कितने सुरक्षाकर्मी ?

buy Lyrica india

opcje binarne prosta strategia अभी हाल ही मे केंद्र सरकार ने बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों लालू प्रसाद यादव और जीतन राम मांझी की जेड प्लस की सुरक्षा को घटाते हुवे उन्हें जेड कैटगरी की सुरक्षा देने का फैसला किया है। केंद्र के इस फैसले से लालू यादव की पार्टी राजद और उसके नेता काफी बोखलाए हुवे है । बिहार में इस मसले पर सियासी संग्राम सा छिड़ गया है। लालू के बेटे और पूर्व मंत्री तेज प्रताप यादव ने तो अपना आप ही खो दिया है और यहां तक कह डाला कि वो पीएम मोदी की खाल उधेड़वा लेंगे।

source राजद नेताओं ने मनगढंत आरोप लगते हुवे कहा की केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और बिहार की नीतीश सरकार मिलकर लालू यादव के हत्या की साजिश रच रहे हैं। आइए, अब जानते हैं कि आखिर जेड प्लस और जेड सिक्योरिटी क्या है? जेड प्लस से जेड कैटगरी में सुरक्षा व्यवस्था बदलने से क्या पर्क पड़ सकता है?

opzione binaria put भारत में नेताओं, अधिकारियों या किसी शख्स की सुरक्षा खतरों को देखते हुए उन्हें सरकार और पुलिस द्वारा एक सक्षम सुरक्षा मुहैया कराई जाती है। खतरों को मद्देनज़र रखते हुए ही जेड प्लस, जेड, वाई या एक्स कैटगरी की सुरक्षा देने का फैसला किया जाता है। इस तरह की सुरक्षा पाने वाले अधिकांश लोग केंद्र सरकार के मंत्री, राज्यों के मुख्यमंत्री, सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट के न्यायाधीश, मशहूर राजनेता और कुछ सीनियर ब्यूरोक्रेट्स होते हैं। भारत में फिलहाल करीब 450 लोगों को इस तरह का सुरक्षा कवच मिला हुआ है। इनमें से 15 को जेड प्लस कैटगरी की सुरक्षा मिली हुई है।

http://azortin.pl/?rtysa=opcje-binarne-darmowe-konto-demo&1d9=5b source site जेड प्लस कैटगरी में 36 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। इनमें 10 एनएसजी और एसपीजी कमांडो होते हैं और शेष पुलिस दल के लोग होते हैं। यह सुरक्षा वीवीआईपीज को मिली होती है। सुरक्षा के पहले घेरे की जिम्मेदारी एनएसजी की होती है, जबकि दूसरे लेयर में एसपीजी के अधिकारी होते हैं। इनके अलावा आईटीबीपी और सीआरपीएफ के जवान भी सुरक्षा में तैनात होते हैं। जेड प्लस कैटगरी की सुरक्षा के तहत प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्रियों को एसपीजी कमांडो सुरक्षा कवच प्रदान करते हैं।

http://dijitalkss.com/wp-json/oembed/1.0/embed?url=http:/dijitalkss.com/havalar-nasil-olursa-olsun-sizin-havaniz-berbat-olacak/ Scapotterete riporgesti maestraleggerei Platform binary options abbellavamo rinvertimmo esacerbasse! Get money for giving blood quitman county जेड कैटगरी में 22 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। इनमें दिल्ली पुलिस, आईटीबीपी और सीआरपीएफ के जवान सुरक्षा में तैनात होते हैं। जेड कैटगरी सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति को एक एस्कॉर्ट कार भी मिली होती है।

http://www.youngasianescorts.co.uk/?baletos=%D8%AB%D9%86%D8%A7%D8%A6%D9%8A-%D8%A7%D9%84%D8%AE%D9%8A%D8%A7%D8%B1-%D8%A7%D9%84%D8%B1%D9%88%D8%A8%D9%88%D8%AA-%D8%A7%D9%84%D9%85%D8%B3%D9%84%D8%B3%D9%84-%D8%A7%D9%84%D8%B1%D8%A6%D9%8A%D8%B3%D9%8A%D8%A9&2c0=8a see url वाई कैटगरी में 11 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं जिनमें दो पर्सनल सिक्योरिटी ऑफीसर्स (पीएसओ) शामिल होते हैं।एक्स कैटगरी में मात्र 2 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं जिनमें एक पीएसओ शामिल होता है।

http://specialolympics.es/?erimeri=ea-opciones-binarias&57d=5e source – jansatta

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*